Candle Lyrics - Madhuri Dixit | BollywoodTracksLyrics

Madhuri Dixit Presents 'Candle' the Latest Song Lyrics in Hindi & English. The Music composed by Narinder Singh & Jouni Kari & the lyrics writter of this beautiful song is Narinder Singh & Michael Ochs. The Song Was Released At 'Madhuri Dixit Nene' Official Youtube Channel On May 29th, 2020.

Song Details:

Song: Candle (Lyric)
Artist: Madhuri Dixit
Producers: Madhuri Dixit Nene, Shriram Nene 
Producers: Narinder Singh, Jules & Raja Kumari.
Composers: Narinder Singh & Jouni Kari
Writers: Narinder Singh & Michael Ochs
Vocal Coach: Ron Anderson
Music Video: RNM Moving Pictures Pvt. Ltd.
Music Label: Madhuri Dixit Nene
Released Date: May 29th, 2020.


Candle Lyrics In English:

Here We Step Up To The Edge
And We’re Not Afraid To Fall
We Found Ourselves & Lost Our Heads
Going Down Like A Waterfall...

We Can Light A Candle In The Rain Or In A Hurricane

And Watch The Flames Climbing Higher
It’s Never Gonna Change
'coz This Is How We Burn
Burn Like Fire...
Burn Like Fire...

Here We Crash Into The Waves
If We Drown, Just Let Us Drown
For Some Love There No Escape
So We Lay Our Bodies Down...

We Can Light A Candle In The Rain Or In A Hurricane
And Watch The Flames Climbing Higher
It’s Never Gonna Change

'coz This Is How We Burn
Burn Like Fire...
Burn Like Fire...


Candle Lyrics In Hindi:

हम झरने के किनारे पर खड़े हैं
पर हमें गिरने का डर नहीं
हम होश में तो हैं
पर बेहोश होकर बहने लगे झरने की तरह...


आएँ एक दिया (candle) जलायें
बारिश आये या तूफान

इस आग की लपटें बढ़ती रहेंगी
क्योंकि हम नहीं बदलते
हम ऐसे ही जलते है
आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह...


हम लहरों से टकराते हैं
हमें डूबने का डर नहीं
इश्क़ से हमें छुटकारा नहीं
हम क़ुर्बान हो जाते हैं
आएँ एक दिया (candle) जलायें
बारिश आये या तूफान
इस आग की लपटें बढ़ती रहेंगी
क्योंकि हम नहीं बदलते
हम ऐसे ही जलते है
आग की लपटों की तरह
आएँ एक दिया (candle) जलायें

बारिश आये या तूफान
इस आग की लपटें बढ़ती रहेंगी
क्योंकि हम नहीं बदलते
हम ऐसे ही जलते है
आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह...

आएँ एक दिया (candle) जलायें
बारिश आये या तूफान
इस आग की लपटें बढ़ती रहेंगी
क्योंकि हम नहीं बदलते
हम ऐसे ही जलते है


आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह

आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह
आग की लपटों की तरह...


Written by: Gaurav [BOLLYWOOD TRACKS LYRICS]                                             

If Found Any Mistake in Lyrics, Please Report In Contact Section with Correct Lyrics...

Post a comment